DA और PA क्या होता है | कैसे इसको बड़ाए New Website में

तो आज हम जानेंगे Domain Authority (DA) क्या है Page Authority क्या है और इसको कैसे बढ़ाया जा सकता है। Domain authority का short form DA है और Page Authority का short form PA है। इसको कैसे बढ़ाया जा सकता है।

DA ( Domain Authority) होता क्या है।

Domain Authority (डोमेन अथॉरिटी) का गूगल से कोई भी लेना देना नहीं है। क्योंकि Domain Authority ( डोमिन अथॉरिटी) चेक करने का पैमाना MOZ कंपनी के द्वारा बनाया गया है। जो आपके डोमेन की कुछ चीजों को चेक करके आपकी वेबसाइट को Score देती है । आपकी वेबसाइट को कितने नंबर मिलने चाहिए और यह स्कोर 1 से लेकर 100 तक की संख्या तक होता है। लेकिन अगर आपकी वेबसाइट की domain authority अच्छी होगी तो आपको search engine में ranking में थोड़ी आसानी होगी।

PA ( Page Authority) होता क्या है।

Page Authority में आपकी वेबसाइट की पेज की ranking increase होती है। इससे google को आपके आर्टिकल रैंक जल्दी करवाता है जैसे ही आप कोई नया आर्टिकल लिखते हैं और अगर आपकी वेबसाइट का Page Authority अच्छी है तो आपकी वेबसाइट जल्दी ही गूगल में इंडेक्स होना स्टार्ट हो जाएगी और आपको जल्दी ट्रैफिक मिल जाएगा।

Domain Authority (DA) और Page Authority (PA) में अंतर क्या है

da-pa-kya-hai-aur-kaise-increase-karte-hai

यह सवाल काफी बार पूछा जाता है। तो मैं बता दूं जो domain authority होती है। वह आपके domain यानी कि जो वेबसाइट का नाम है। सिर्फ उसकी होती है और page authority आपकी वेबसाइट के पेजेस की होती हैं । यही में मुख्य अंतर इन दोनों में आपको देखने को मिलता है।

DA और PA Check कैसे करे

आप अपनी वेबसाइट के domain authority और पेज अथॉरिटी को बहुत ही आसानी से step by step में चेक कर सकते हैं । उसके लिए आपको MOZ की Official website में जाना होगा और उसके बाद आपको उनके फ्री seo टूल को क्लिक करना होगा और उसके बाद आप अपनी वेबसाइट वहां पर डाल कर चेक कर सकते हैं।

DA और PA कैसे बड़ाए

काफी सारे लोग यह सवाल पूछते हैं कि इस को इनक्रीस कैसे करें तो आज मैं आपके साथ कुछ टिप्स शेयर करूंगा जिसकी मदद से आप अपनी वेबसाइट पर बहुत ही जल्द DA or PA को इनक्रीस कर पाओगे तो सीधे चलते हैं मेन पॉइंट्स की तरफ़।

HIGH QUALITY CONTENT

सबसे ज्यादा मुख्य PART आपका कांटेक्ट होता है अगर आप अपनी वेबसाइट में कंटेंट को कॉपी करते हैं तो आपकी वेबसाइट में DOMAIN AUTHORITY और PAGE AUTHORITY को इनक्रीस होने में बहुत ज्यादा समय लगता है । और शायद यह भी हो सकता है । कि आपकी वेबसाइट में डोमिन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी बड़े ही ना | तो आपको इन चीजों का जरूर से ध्यान करना है । और बिल्कुल भी अपनी वेबसाइट में Copy Content नहीं लिखना है |और अपनी वेबसाइट के आर्टिकल्स के words ki length बढ़ानी होगी। जैसे अगर आप अपनी वेबसाइट पर 500 words तक के आर्टिकल लिखते हैं । तो अब आपको उन को इनक्रीस करके 800 या 1000 words लिखने होंगे।

INTERLINKING

काफी सारे लोग यह गलती बहुत ज्यादा करते हैं | और अपनी वेबसाइट में Interlinking बहुत कम करते हैं या फिर बिल्कुल ही नहीं करते हैं | जिससे उनकी वेबसाइट के पुराने आर्टिकल्स कनेक्ट नहीं हो पाते हैं| एक आर्टिकल  दूसरे से  connect हो आपको इस चीज का ध्यान रखना जरूरी है |कि आप अपनी वेबसाइट के इंटरलिंक्स जरूर बनाएं ताकि जो आपकी वेबसाइट में Visitors आए वह आपकी वेबसाइट में थोड़ा सा busy भी रहे और आपके पुराने आर्टिकल भी देख सकें |

Backlinks

Backlinks भी बहुत जायदा जरुरी है। लेकिन काफी सारे लोग इसको ignore करते है। तो आपको इसको जारू इस्तमाल करना हैं। और इन चीज़ों का जरुर ध्यान रखना होगा कि जिस website से आप Backlinks ले रहे हो। उसकी domain authority और page authority आपकी website से जयदा होनी चाहिए। जिससे आपकी website अच्छी से increase होगी।

Onepage Seo

Onepage Seo भी आपकी website के लिए काफी ज्यादा जरुरी है। और अगर आप अपनी website का onpage seo अच्छे से करते है | तो आपकी वेबसाइट मै अच्छा traffic आपको देखने को मिलेगा तो अपनी website ka अच्छे से onpage seo जरूर करें।

Domain Age

डोमेन age भी काफी जायदा effect करती है आपकी वेबसाइट पर। तो अगर आपका डोमेन थोड़ा पुराना है तो वो आपके लिए एक positive चीज है। और अगर आपकी वेबाइट न्यू है तो आप उपर दी हुईं बातो का ध्यान दे आपकी website ka DA और PA बड़ना सुरु हो जाएगा।

Broken links

ब्रोकन लिंक्स आपको अपनी website से हटा देने है क्योंकि इसकी वजह से आपकी website में बहुत बुरा effect पड़ता हैं। जो आपके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। तो हमेशा अपनी website से bad Backlinks रिमूव करते रहे।

कुछ बाते जो DA और PA बढ़ाने के लिए है

  • High-quality Backlinks
  • Regular posting
  • Quality content
  • Avoid Copy Content
  • Interlinking

उम्मीद करता हूं आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आया है तो नीचे comment karke जरूर बताना। मिलते है अगले आर्टिकल में तब तक के लिए जय हिन्द वन्दे मातरम।।।

You can also Subscribe Our YouTube Channel:- ShivaHindiTech

2 thoughts on “DA और PA क्या होता है | कैसे इसको बड़ाए New Website में”

Leave a Comment