Home Others Low-Quality Website क्या है ? 8 Major Mistakes On Your Website

Low-Quality Website क्या है ? 8 Major Mistakes On Your Website

आज मैं आपको कई सारी छोटी-छोटी टिप्स शेयर करने वाला हूं जो आपकी Site को Google में Index करने में बहुत मदद करेगी यह टिप्स आपके लिए एक मुर्गी के सोने के अंडे के समान है क्योंकि आज तो मैं आपको बताने जाने वाला हूं वो बातें जो आपको आपकी साइड को इंडेक्स करने में बहुत ज्यादा उपयोग करेगी। कई बार मुझसे लोग अक्सर पूछते रहते हैं कि शिवांकर भाई मेरी साइड के 3 से ज्यादा महीने होंगे लेकिन इस पर ट्राफिक नहीं आ रहा क्या मेरी साइड गूगल में अच्छी तरह से इंडेक्स नहीं हो रही है इसका क्या कारण है।

क्या आप जानते हैं कि आप की वेबसाइट में ज्यादा ट्रैफिक कैसे आ सकता है? क्या आप जानते हैं कि आपकी Website को कैसे मोनेटाइज करें? जिससे आपकी Website में ज्यादा traffic आसके और क्या आप जानते हैं कि आपकी वेबसाइट को कैसे मेंटेनेंस करें जिससे आपकी वेबसाइट गूगल में फ्रेंडली हो? तो चलिए आज मैं आपको ऐसी छोटी छोटी बातें बताता हु जो आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी।

low-quality-website-kya-hoti-hai
source:- ShivaHindiTech

TIP 1:  वेबसाइट को मेंटेन कैसे करें, How to Maintain Website?

सबसे पहली बात वेबसाइट को मेंटेन कैसे करें क्या आप जानते हैं कि वेबसाइट को मेंटेन करने से दिन प्रतिदिन आपकी google ranking में ज्यादा और तेजी से बढ़ावा आता है। अगर आपकी साइड सही तरह से लोड नहीं हो रहा रही है जैसे कि आप की वेबसाइट की कोई फोटो या Thumbnail की साइज ज्यादा बड़ी है तो आपके साइड पर लोडिंग की स्पीड में बहुत फर्क होता है। इससे हमारे यानी कि गूगल के user को बहुत ही पसंद नहीं आता है। यूजर तेजी से हमारी साइड को छोड़ देता है। आपको मेरी तरफ से पहले टिप्स यह है कि आप अपनी वेबसाइट के फोटो या Thumbnail को सही तरह से डालें सही साइज की डालें बहुत ज्यादा साइज की ना डालें जिससे आपकी साइड तेजी से लोडिंग होगी और आपके यूजर को और आपका ब्लॉग पढ़ने वाले को बहुत पसंद आएगा और उनको एक अच्छा User Experience मिलेगा।

TIP 2: वेबसाइट में सही इंफॉर्मेशन को डालें यानी कि आप अपनी वेबसाइट में या Blog में गलत information को न डालें

कई बार लोग ज्यादा पैसे या दूसरों को अपने ब्लॉग पर टिके रहने के लिए अपने ब्लॉग पर कुछ ऐसी इंफॉर्मेशन डाल देते तो असल में सही नहीं होती और गलत होती है। क्या आप जानते है आपकी गलत इंफॉर्मेशन आपके यूजर को दोबारा आपकी साइट पर ना आने के लिए मजबूर करता है। सही रूप से उस समय तो आप उसकी तरफ से आपके पेज पर टिका सकते हो पर उसको आप फिर से अपने ब्लॉग उस यूजर को पर नहीं ला सकते। बस यह ध्यान रखें कि आप जो इंफॉर्मेशन आपके यूज़र या पढ़ने वाले को दे रहे हो वह 100% सही हो।

TIP 3 : गूगल की Guidelines का पूरी तरह से पालन करें

आज हम देख रहे हैं कि कई लोग गूगल की गाइडलाइन का पालन नहीं करते और बाद में गूगल उस साइट को पनलाइज़ कर देता है यानि कि उसकी साइड को हमेशा के लिए Banned कर देता है। कईबार तो उसकी साइड की रैंकिंग को कम कर देता है। ब्लॉगिंग के करियर में यह सबसे बड़ा फैक्टर है कि आप गूगल की सभी लाइन गाइडलाइन का पालन करें और आपका content गूगल की गाइड लाइन के अंदर बनाएं। अगर आप का Blog Content गूगल कि किसी भी गाइडलाइन को क्रॉस करता है तो आपका एक आर्टिकल आपकी साइट को हमेशा के लिए Banned करवा सकता है या बंद करवा सकता है या उसकी रैंकिंग को हटा सकता है।

TIP 4: आपकी वेबसाइट को सही तरह से डिजाइन करना यानी कि मोबाइल फ्रेंडली बनाना और नेविगेशन को ठीक से सेट करना

कई बार हम हमारे ब्लॉग के लिए बहुत ही दिखने में अच्छी Theme को पसंद कर लेते है। लेकिन वह बहुत ही अच्छे से बनी नहीं होती है। जैसे कि वह थीम Computer पर दिखने में अच्छी होती है लेकिन मोबाइल में कई तरह की दिक्कतें वाली होती है यानी की खामियां वाली होती है। जैसे कि उसका मेनू या नेवीगेशन ठीक से सेट नहीं होता है हमारे मोबाइल पर तो कई बार यूजर आते हैं और उनको जहा जाना है उसकी जगह पर दूसरी जगह चले जाते हैं। चौथी और सबसे खास टिप्स है कि अच्छी टिप्स यह है की थीम को पसंद करना और सही और मोबाइल फ्रेंडली हो और उसको सेट करना।

कैसे हम अपने Theme को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं, How to customize Mobile-Friendly Theme?

हमारे वेबसाइट की theme को अच्छा और मोबाइल फ्रेंडली बनाने के लिए या सेट करने के लिए एलिमेंटर जैसे से पेज बिल्डर प्लगइन का इस्तेमाल होता है। इससे बढ़िया तरीका यह है कि डायरेक्ट आपकी टीम को कस्टमाइज किए बिना आप अपनी थीम को मोबाइल फ्रेंडली बना सकते है। AMP नाम का एक प्लगइन आता है जिसके इस्तेमाल करने से हमारी थीम की साइज कम होता है यानी कि यह प्लगइन हमारे लिए एक दूसरी थीम को क्रिएट कर देता है और उसे गूगल में रैंक करवाने लगता है जो मात्र मोबाइल में ही यूज कर सकते हैं यानी कि यह थीम हमें मोबाइल में ही दिखेगी जिसकी वजह से आपकी वेबसाइट की साइज कम हो जाएगी और तेजी से गूगल में रैंक करने लगी।

TIP 5: आपकी वेबसाइट आउटडेटिड न होना यानिकि वेबसाइट को अपडेट रखना

आउटडेटेड का मतलब यह नहीं है कि आपकी वेबसाइट पर नया नया कांटेक्ट डालना क्या पुराने टॉपिक या कंटेंट पर ध्यान ना देना। इसका मतलब यह है कि आपकी वेबसाइट को अप टू डेट रखना यानी कि आपकी वेबसाइट की Themes, Plugin को अपडेटेड रखना जिससे आपकी वेबसाइट अप टू डेट रहेगी। यह नहीं कि आप उसको जो ट्रेंड में चल रहा है गूगल में उस ट्रेंड के मुताबिक गूगल में रिंग करेंगे। यानी कि उस तरह से आपकी साइट गूगल में दिखेंगी। क्योंकि आज हम देख रहे हैं कि गूगल अपनी एल्गोरिथ्म में कई सारे बदलाव ला रहे हैं और अपडेटेड साइट हमें गूगल के होते एल्गोरिदम के बदलाव से साइट रैंकिंग को आसर न करे उसके लिए मदद करता है।

TIP 6: Spammy Comment को यानी कि Spammy Links को अपने ब्लॉग से हटाए और Content Auto generate tool का इस्तेमाल न करना

ब्लॉगिंग में कई लोग यह सिखाते हैं कि तेजी से Backlink कैसे बनाई जाए लेकिन साथ-साथ कि वह कई बार लोगों को Backlink बनाने के गलत रस्ते यानी कि तरीके से खाते है। हम आप को कहते हैं कि यह जरिया बिल्कुल गलत है आपको अगर आपका ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आता है तो साथ-साथ आपको यह भी ख्याल रखना होगा कि उस के साथ-साथ आने वाले सभी Spammy Comment को आप तीन महीनों के अंदर हटाते रहे। क्योंकि यह कॉमेंट एक खास तरह के Tools की मदद से हमारे blog पर कई कमेन्ट आते हैं। इसका मकसद यह होता है कि वह हमारे ब्लॉग में बैकलिंक्स बनाएं लेकिन यह हमारी साइट की Domain Authority को बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाते हैं।

दूसरी बात यह है कि Automatic Content Generator Tool का इस्तेमाल हमारे ब्लॉग में ना करें। क्योंकि यह गूगल ऐडसेंस की गाइडलाइन का हिस्सा नहीं है इसका इस्तेमाल करने से शायद आप 1 महीने तक तो रैंक कर पाएंगे लेकिन बाद में तेजी से आपकी साइट की रैंकिंग कम हो जाने लगेगी। तो यह भी जान ले कि आपको ऐसे किसी भी टूल का इस्तेमाल अपने ब्लॉग में नहीं करना है।

TIP 7: अपने Blog में ज्यादा Keyword Stuffing न करे

क्या आप अपने ब्लॉग को तेजी से रैंक करवाने की लालच में अपने ब्लॉग में ज्यादा Keyword Stuffing करते हैं या आपके Focus Keyword को दो या तीन से ज्यादा बार रिपीट करते हैं। तो आप यह जान लें कि आज की तारीख में गूगल के Algorithm काफी तरह से स्मार्ट है। अगर आप एक कीवर्ड को अपने ब्लॉग में बार-बार डाल रहे हैं तो इसका मतलब यह है कि आप Google के algorithm की पकड़ में आ रहे है और इसकी वजह से गूगल का क्राउलर आपके ब्लॉग को रैंक नहीं करता। और इस प्रक्रिया को दोहराते रहनेसे गूगल आपको penalize करदेता है यानी कि आपके ब्लॉग को Banned कर देता है।

TIP 8: आपके Blog को ज्यादा रूप से monetize न करे।

कई बार लोग ज्यादा पैसा कमाने के चक्कर में अपनी वेबसाइट भर-भर कर Ads से मोनेटाइज कर देते हैं। उसका असर यह होता है कि अगर कोई यूजर हमारे ब्लॉग को या आर्टिकल को पढ़ने आता है तो वह गलती से उस एड्स पर क्लिक कर दे रहा है और इसका वजह से वह हमारी साइट को छोड़कर दूसरी साइट पर चला जाता है। हमें लगता है कि यह तरीका हमें ज्यादा पैसे देगा लेकिन आप भूल रहे रहे हैं कि वह आपकी साइड को छोड़कर दूसरी साइड पर जा रहा है यानी कि आप तो पैसा उसके रहने पर कमा सकते हैं वह बंद हो जाता है और आपकी वेबसाइट का सेशन टाइम कम हो जाता है।

इसकी वजह से आपके वेबसाइट की अथॉरिटी कम होने लगती है वह तो Domain Authority का कम होना एक वजह से अपने साइड को बाहर ही रूप से कम रैंक होना माना जाता है। फालतू का टाइम ना बिगाड़े अपने वेबसाइट को ज्यादा मोनीटाइज यानी कि एड्स लगाने में जितने जरूरी है उतने ही एड्स अपने ब्लॉग पर लगाएं।

हमारे साथ जोड़े रहे

मुझे मुझे आशा है कि आप को यह सारी टिप्स जरूर काम आएगी। आपकी Website Ko Google Mai Rank करने के लिए मैं चाहता हूं कि आप यह बातों का ध्यान रखें और आप के ब्लॉग को तेजी से गूगल में रैंक करें और ज्यादा पैसा कमाए। तो बस हमारे साथ ऐसे ही जुड़े रहे हम वेबसाइट को मोनीटाइज, यूजर फ्रेंडली, और कई कई टिप्स लाते रहेंगे जिससे आपकी साइड तेजीसे से गूगल में रैंक करेगी, पैसा निकलेगी और साथ-साथ आपकी वेबसाइट की डोमेन अथॉरिटी भी बढ़ेगी।

ShivaHindiTechhttps://shivahinditech.com
I am Shivankar and I love to Make YouTube Videos and also love to do blogging. And here you can check out all the updates of Seo, Blogging, Earn money Online etc... Contact us: [email protected]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

DA और PA क्या होता है | कैसे इसको बड़ाए New Website में

तो आज हम जानेंगे Domain Authority (DA) क्या है Page Authority क्या है और इसको कैसे बढ़ाया जा सकता है। Domain authority का short form DA है और Page Authority का short form PA है। इसको कैसे बढ़ाया जा सकता है।

Filmora 9 Registration Key | With Email Activation

Filmora Free Key with Email & Activation Key (Free):- अगर आप भी ढूंढ रहे हैं| Filmora Key Free With Email ID and Activation Code तो आप बिल्कुल सही जगह पर है| क्योंकि आज मैं आप लोगों के साथ ,Filmora Free Key Activation शेयर करने वाला हूं| जिससे आसानी से इस्तेमाल कर सकता है |बिना किसी दिक्कत या फिर किसी परेशानी के |

FAU-G game download APK for Android/IOS । Pubg Best Alternative Fauji Game

FAU-G game download APK for Android/IOS । Pubg best alternative Fauji Game :-अगर आप भी ढूंढ रहे हैं Fau-G App For Android तो आप बिल्कुल सही जगह पर है क्योंकि यहां पर आपको फौजी गेम से जुड़ी हुई सारी details देखने को मिल जाएगी | और डाउनलोड कर सकते हैं फौजी गेम जो एक बहुत अच्छा Pub का Alternative है अब बात करते है। जैसे की हम सब को यह तो पता है कि भारत ने चीन की काफी सारी एप्स को बैन किया गया है उसी दौरान पब्जी को भी बैन किया गया था।

Top 3 Best Blogger Template | For Google Adsense Approval

Best Blogger Template For Free For Adsense Approval:-आप लोगों को यह चीज तो पता होगी कि blogger में काफी कम template देखने को मिलते हैं| और आज की इस आर्टिकल में मैं आप लोगों के लिए blogger के 3 बेहतरीन templates लेकर आया हूं| जो Fast, AMP और Google AdSense Ready है।

Recent Comments